हिमाचल गोबर खरीद योजना 2024: जाने लाभ, पात्रता व आवेदन प्रक्रिया

आइये जानते है हिमाचल गोबर खरीद योजना के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया और Himachal Pradesh Gobar Kharid Yojana का उद्देश्य,लाभ व पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज के बारे में जाने

Himachal Pradesh Gobar Kharid Yojana:- हिमाचल प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा राज्य के किसानों और पशुपालकों को लाभान्वित करने एवं उनकी आय में वृद्धि करने के लिए कई महत्वपूर्ण योजनाओं का संचालन किया जाता है ऐसे में राज्य सरकार ने एक नई महत्वपूर्ण योजना की शुरुआत की है जिसका नाम हिमाचल प्रदेश गोबर खरीद योजना है जिसके माध्यम से राज्य सरकार अब पशुपालकों एवं किसानों से गोबर की खरीद करेगी और उसका एक बेहतर इस्तेमाल करके पशुपालकों को लाभान्वित करने का भी कार्य करेगी और इस योजना के माध्यम से राज्य में पशुपालन में बढ़ोतरी देखने को मिलेगी और पशुओं की स्थिति में भी सुधार होगा तो आज हम आपको Himachal Pradesh Gobar Kharid Yojana के बारे में विस्तार से बताते हैं।

Himachal Pradesh Gobar Kharid Yojana 2024

हाल ही में 11 दिसंबर को हिमाचल प्रदेश राज्य के माननीय मुख्यमंत्री श्री सुखविंदर सिंह सुख जी के द्वारा गोबर खरीद योजना की घोषणा की गई है इसके माध्यम से अब राज्य सरकार राज्य के जितने भी किसान एवं पशुपालक है उनसे ₹2 प्रति किलो के हिसाब से गोबर खरीदने का कार्य करेगी और ऐसे में इस योजना के द्वारा राज्य में पशुपालन के क्षेत्र में बढ़ावा देखने को मिलेगा और किसानों एवं पशुपालकों की आय में भी वृद्धि होगी इस प्रकार से लोगों में पशुपालन हेतु जागरूकता भी बढ़ेगी और गोबर के माध्यम से वह आसानी से पैसे भी कमा सकेंगे जिससे उन्हें आर्थिक लाभ भी प्राप्त हो सकेगा और ऐसे में हिमाचल प्रदेश राज्य में आय के साधन में भी बढ़ोतरी देखने को मिलेगी।

हिमाचल गोबर खरीद योजना
Himachal Pradesh Gobar Kharid Yojana

Key Highlights of Himachal Gobar Kharid Yojana

योजना हिमाचल गोबर खरीद योजना
संचालनहिमाचल प्रदेश राज्य सरकार
विभागपशुपालन विभाग
लाभार्थीराज्य के किसान एवं पशुपालक
उद्देश्यकिसानों एवं पशुपालकों की आय में वृद्धि तथा जैविक कृषि को बढ़ावा
कीमत₹2 प्रति किलो
आवेदन प्रक्रियाऑफलाइन मोड
आधिकारिक वेबसाइट https://himachal.nic.in/en-IN/

Gobar Kharid Yojana का उद्देश्य क्या है?

हिमाचल प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई हिमाचल गोबर खरीद योजना के माध्यम से राज्य के किसानों एवं पशुपालकों की आय में वृद्धि करने का उद्देश्य रखा गया है ऐसे में अब सरकार उन सभी पशुपालकों एवं किसानों से ₹2 किलो के हिसाब से गोबर की खरीद करेगी जिससे किसानों को अतिरिक्त आय भी प्राप्त हो सकेगी और उनके पशुओं की स्थिति में भी सुधार देखने को मिलेगा और राज्य में भी आय के साधन में बढ़ोतरी हो सकेगी इस प्रकार से पशुपालन में वृद्धि के द्वारा दूध की कीमतों में भी गिरावट आ सकेगी और राज्य के नागरिकों को पशुपालन के क्षेत्र में प्रोत्साहित किया जा सकेगा।

हिमाचल गोबर खरीद योजना की खरीद से क्या होगा?

जैसा कि आपको बताया गया है कि Himachal Pradesh Gobar Kharid Yojana के माध्यम से सरकार किसानों से ₹2 प्रति किलो की दर से गोबर की खरीद करेगी ऐसे में गोबरों को स्टोर करके रखा जाएगा और उनका उपयोग बागवानी, कृषि क्षेत्र और नर्सरी क्षेत्र में किया जा सकेगा इस प्रकार से गोबर की आपूर्ति सुनिश्चित की जा सकेगी और किसानों द्वारा उत्पादित जैविक उत्पादों के विवरण के लिए उन्हें बाजार में भी उपलब्ध कराया जाएगा जिससे जैविक फसलों को बाजारों में खरीदा भी जा सकेगा।

Also Check: Viklang Pension Yojana List

गोबर खरीद योजना का लाभ क्या है?

  • हिमाचल प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा किसानों एवं पशुपालकों को लाभान्वित करने के लिए Himachal Pradesh Gobar Kharid Yojana की शुरुआत की गई है।
  • अब इस महत्वपूर्ण योजना के माध्यम से प्रदेश सरकार किसानों से ₹2 किलो के हिसाब से गोबर खरीद सकेंगी।
  • इस योजना के माध्यम से एक ब्लॉक से लगभग ढाई सौ किसानों को पंजीकृत करके लाभान्वित किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से किसानों एवं पशुपालकों को राज्य सरकार के द्वारा अनुदान योजनाओं का भी लाभ दिया जाएगा।
  • यह योजना राज्य के सभी महिला एवं पुरुष किसानों एवं पशुपालकों के लिए लाभान्वित की जाएगी।
  • गोबर खरीद योजना के माध्यम से राज्य में किसने की आय में वृद्धि होगी।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य में पशुपालन का क्षेत्र बढ़ेगा और पशुओं को पालने के लिए प्रेरित किया जा सकेंगे।
  • इस योजना के माध्यम से जैविक खाद्य पदार्थ भी उपलब्ध हो सकेगा और कृषि के क्षेत्र में भी बढ़ोतरी देखने को मिलेगी।
Gobar Kharid Yojana हेतु पात्रता
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आवेदनकर्ता को हिमाचल प्रदेश का ही मूल निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना का पात्र केवल राज्य के किसान एवं पशुपालकों को ही माना जाएगा।
  • जिन किसानों के पास पशु उपलब्ध होगा वही इस योजना का लाभ ले सकेंगे।

Also Check: PM Awas Yojana List 

गोबर खरीद योजना हेतु महत्त्वपूर्ण दस्तावेज
  • Aadhaar Card
  • Ration Card
  • Domicile Certificate
  • Kisan Card
  • Voter ID Card
  • Bank Account Details
  • Passport Size Photo
  • Mobile Number

हिमाचल गोबर खरीद योजना के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया

  • यदि आप Himachal Pradesh Gobar Kharid Yojana के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको सबसे पहले अपने जिले के नजदीकी पशुपालन या कृषि विभाग कार्यालय पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपको वहां से इस योजना के आवेदन फार्म को प्राप्त कर लेना होगा।
  • फिर आपको उस आवेदन फार्म के अंतर्गत मांगी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी को बारी-बारी से दर्ज कर देना होगा।
  • और उसके साथ आपको अपने सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को भी संलग्न कर लेना होगा।
  • अब आपको अपने आवेदन फार्म को वापस इस विभाग में ले जाकर संबंधित अधिकारी के पास जमा कर देना होगा।
  • इसके बाद आपके आवेदन की जांच की जाएगी और सभी जानकारियां सच पाए जाने पर आपका वेरिफिकेशन कर दिया जाएगा।
  • इस प्रकार से आपके आवेदन को स्वीकार करके आपको इस महत्वपूर्ण योजना का लाभ प्रदान कर दिया जाएगा।

हिमाचल गोबर खरीद योजना से संबंधित कुछ सवाल और जवाब (FAQs)

हिमाचल गोबर खरीद योजना के माध्यम से किसको लाभ मिलेगा?

हिमाचल प्रदेश राज्य के जितने भी किसान एवं पशुपालक हैं उन्हें इस योजना के माध्यम से सीधे तौर पर लाभ प्रदान किया जाएगा।

हिमाचल गोबर खरीद योजना के माध्यम से सरकार क्या करेगी?

इस योजना के माध्यम से किसानों एवं पशुपालकों से सरकार गोबर खरीदेंगे और उसका इस्तेमाल जैविक खेती के तौर पर करेगी।

हिमाचल गोबर खरीद योजना के माध्यम से सरकार क्या करेगी?

इस योजना के माध्यम से किसानों एवं पशुपालकों से सरकार गोबर खरीदेंगे और उसका इस्तेमाल जैविक खेती के तौर पर करेगी।

गोबर खरीद योजना के द्वारा कितने रुपए किलो गोबर खरीदा जाएगा?

हिमाचल प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा गोबर खरीद योजना के द्वारा ₹2 प्रति किलो गोबर की खरीद की जाएगी।

Leave a Comment